उत्तर प्रदेश में महजबी फरेब के चलते एक महिला द्वारा आत्मदाह का मामला सामने आ रहा है. युवती को लव जिहाद (Lvoe Jihad) मे फंसाकर उसे धोखा दिया गया जिसे तंग आकर उसने ऐसा कदम उठाया. लखनऊ विधानभवन के सामने मंगलवार दोपहर महिला ने अपने ऊपर ज्वलनशील पदार्थ डालकर आत्मदाह का प्रयास किया. मौके पर मौजूद पुलिस कर्मियों ने महिला को बचाने का प्रयास किया, लेकिन तब तक वो बहुत हद तक जल गई थी, महिला को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है. महिला का नाम अंजना तिवारी (Anjana Tiwari) बताया जा रहा हैजो कि निकाह के बाद आयशा रजा (Ayesha Raza) हो गई थी.

दअससल, 8 अक्टूबर को यह मामला सामने आया था, महराजगंज के गगहा के सोहगौरा की रहने वाली युवती ने डीआईजी कार्यालय में दिए प्रार्थना पत्र में लिखा था कि उसकी शादी 2012 में महराजगंज जिले के रहने वाले युवक से हुई थी. नशे के आदी पति से अक्सर विवाद होता था. 2015 में पति से रिश्ता टूट गया, जिसके बाद वह महराजगंज कस्बे में अपनी बहन के घर रहकर दुकान पर काम करती थी. इसी दौरान उसकी मुलाकात महराजगंज कस्बे के वीर बहादुरपुर निवासी आसिफ रजा से हुई. रजा ने उसे अपने प्रेमजाल में फंसा लिया. इसके बाद शादी का झांसा देकर उसके साथ दुष्कर्म किया, पुलिस से शिकायत करने पर मौलवी को बुलाकर निकाह कर लिया.

पीड़िता के मुताबिक लेकिन घरवालों ने अपने पास रखने से मना कर दिया. जिसके बाद आसिफ शहर के कूड़ाघाट में किराए पर कमरा लेकर रहने लगा. कुछ दिन बाद मकान बदलकर पादरी बाजार चला गया. युवती का आरोप है कि आसिफ इस समय दुबई में है, फोन करके धर्म परिवर्तन करने का दबाव बना रहा है. बात न मानने पर उसने रिश्ता तोड़ लिया है और खर्च भेजना भी बंद कर दिया है. पीड़िता की शिकायत पर पुलिस मामले की जांच कर रही है. पति के धोखे से पीड़िता बहुत परेशान थी जिसके चलते उसे आत्मदाह जैसा कदम उठाया.

रिपोर्ट - चंदू शर्मा