हाथरस केस (Hathras Case) में मंगलवार को सीबीआई (CBI) की पूछताछ में नया मोड़ सामने आया है. दलित युवती से कथित गैंगरेप मामले में जेल भेजे गए चार आरोपियों में एक नाबालिग बताया जा रहा है. परिजनों ने सीबीआई की पूछताछ में आरोपी के नाबालिग होने का दावा किया, सबूत के तौर पर उन्होंने हाईस्कूल की मार्कशीट भी दिखाई. साथ ही सीबीआई ने इस मामले में अब निलंबित पुलिसकर्मियों से भी पूछताछ की है.

गिरफ्तार चार आरोपियों मे से आरोपी लवकुश आरोपी के परिजनों ने दावा किया है कि अभी उनके बेटे की उम्र 18 साल से कम है. बावजूद इसके पुलिस ने उसको गिरफ्तार कर जेल में बंद कर दिया है. परिजनों ने सबूत के तौर पर नाबालिग की हाईस्कूल की मार्कशीट को प्रस्तुत किया. मार्कशीट के मुताबिक लवकुश अभी 17 साल का ही है. मंगलवार को सीबीआई टीम ने एक बार फिर बूलगढ़ी गांव का दौरा किया और क्राइम सीन का निरीक्षण करने पहुंची.

इससे पहले बीते सोमवार को सीबीआई की टीम अलीगढ़ पहुंची थी. एक टीम अलीगढ़ जिला कारागार पहुंची और एक-एक कर चारों आरोपियों से पूछताछ की. मुख्य आरोपी संदीप से सबसे ज्यादा देर तर सीबीआई अधिकारियों ने सवाल-जवाब किए. वहीं दूसरी टीम ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज का दौरा किया और यहां उन डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ से पूछताछ की जिन्होंने पीड़िता का इलाज किया था.

रिपोर्ट - चंदू शर्मा