यूपी पुलिस विभाग के जवान दिन रात, साल भर लोगों की सुरक्षा के लिए ड्यूटी पर मुस्तैद रहती है। जिस वजह से उन्हें अवकाश नहीं मिल पाता। ऐसे में कई बार पुलिसकर्मी अपना आपा खो देते हैं। मामला पीलीभीत का है, जहां एक सिपाही ने इंस्पेक्टर को जान से मारने की धमकी तक दे डाली। सिपाही ने दारोगा से कहा कि वो गोली से मार दिया जाएगा। जिस इंस्पेक्टर को धमकी मिली है, उसने सिपाही के खिलाफ धमकी देने, सरकारी काम में बाधा करने का मुकदमा दर्ज कराया।

ये है मामला

जानकारी के मुताबिक मुरादाबाद के सिविल लाइंस निवासी रजदीप सिंह डायल 112 में सिपाही हैं। 23 जून को उनके परिवार के एक सदस्य की मृत्यु हो गई थी। इस पर उन्होंने पांच दिन की छुट्टी का प्रार्थना पत्र इंस्पेक्टर रविंद्र कुमार को दिया और घर चले गए। इंस्पेक्टर के अनुसार, अगले दिन रजदीप को फोन कर बताया कि छुट्टी स्वीकृत नहीं हुई है, इसके बावजूद इस तरह ड्यूटी से चला जाना अनुशासनहीनता है।

इस पर राजदीप ने वाट्सएप पर अभद्र शब्दों का इस्तेमाल कर कई संदेश भेजे। 25 जून को उन्हें फोन कर नाराजगी जताई तो गालियां दी। जान से मारने की धमकी देने लगे। कहा क‍ि गोली मार दी जाएगी। कांस्टेबल ने धमकी भरे मैसेज में लिखा है कि तुझे मैं मार दूंगा, अपनी मां की कसम तू मरेगा। तू कहीं रह लेना, मैं तुझे मार दूंगा। तू खत्म है, तू क्या है, तेरी औकात क्या है। तुझे खत्म कर दूंगा।

एसएसपी ने किया सस्पेंड

इंस्पेक्टर रविंद्र कुमार ने धमकी देने, सरकारी काम में बाधा करने का मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस अधीक्षक दिनेश पी ने बताया कि सिपाही को सस्पेंड किया गया है, किसी भी प्रकार की अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं की जाएगी।