राजस्थान के उदयपुर में कन्हैयालाल की हत्या के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। जांच के दौरान आरोपियों का पाकिस्तानी कनेक्शन सामने आया है। दोनों हत्यारे मोहम्मद रियाज और मोहम्मद गौस कराची गए थे। साथ ही वहां के कुछ नंबरों पर लगातार बात भी कर रहे थे। एनआईए ने हत्या के दोनों आरोपियों से पूछताछ के बाद उनके खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। अब इस मामले की जांच एनआईए कर रही है।

Also Read: कानपुर: बिरयानी का पतीला लगाकर कब्जाई थी 8 दुकानें, अब मुख्तार बाबा की मुश्किलें बढ़ाएंगी जीनत आजमी, मोर्चा खोलने की तैयारी

पाकिस्तान में ली थी 15 दिन की ट्रेनिंग

दोनों आरोपियों ने कराची में करीब 15 दिन की ट्रेनिंग ली थी। हालांकि यह ट्रेनिंग 2014-15 में ली गई है। साथ ही दोनों पाकिस्तान में दावत-ए-इस्लाम संगठन से भी जुड़े हुए थे। कराची से वापस आने के बाद दोनों आरोपी समाज के युवाओं को लगातार अपने धर्म के लिए कट्टर रहने के लिए भी भड़का रहे थे। दोनों ने एक व्हाट्स ग्रुप भी बनाया था जिसमें भड़काऊ वीडियो और मैसेज भेजकर युवाओं का ब्रेन वॉश किया जा रहा था।

Also Read: Udaipur Murder Case: कन्हैयालाल का हुआ अंतिम संस्कार... पत्नी बोली- हत्यारों को फांसी दो, नहीं तो ये लोग कई लोगों को मारेंगे

पाकिस्तानी नंबर पर कर रहे थे बात

यही नहीं आरोपियों के फोन की जांच के दौरान एनआईए को 10 संदिग्ध नंबर मिले हैं, जिनकी लोकेशन पाकिस्तान और भारत में आ रही है। इन नंबरों पर आरोपियों की लगातार बात भी हो रही थी। दोनों पाकिस्तान के एक मौलना के भी संपर्क में थे।

हत्या कर दहशत फैलाने की थी योजना

दोनों हत्यारे मोहम्मद रियाज और मोहम्मद गौस सिर्फ दर्जी कन्हैयालाल की हत्या नहीं करना चाहते थे। उनकी योजना हत्या के साथ ही पूरे देश में दहशत फैलानी की थी। इस योजना के तहत उन्होंने हत्या का लाइव वीडियो भी बनाया और हत्या के बाद फरार होने के बाद भी वीडियो बनाया, जिसमें उन्होंने हत्या करने की बात कबूल की है। दोनों ने हत्या को इस्लाम धर्म का अपमान करने की सजा बताया।

Also Read: Udaipur Murder: आज जंतर-मंतर पर होगा आतंक के नाश का संकल्प, कपिल मिश्रा बोले- कन्हैयालाल के परिवार की उठाएंगे जिम्मेदारी, देंगे 1 करोड़ की सहायता राशि

आज पुलिस, एनआईए, एसआईटी, एफएसएल और एटीएस की टीमें दर्जी की दुकान पर भी पहुंची। जांन एजेंसियों ने यहां जांच कर सबूत जुटाए साथ ही आसपास के लोगों से भी पूछताछ की है। एनआईए की टीम ने उदयपुर में कन्हैयालाल के साथ काम करने वाले राजकुमार से भी पूछताछ की है।

Also Read: कन्हैयालाल की हत्या पर भाजपा विधायक ने राहुल गांधी को घेरा, कहा- हिंदुओं से किस बात का बदला ले रहे हो, ये महापाप बहुत भारी पड़ेगा