भले ही फिल्मों पुलिस विभाग की छवि कितनी भी निगेटिव दिखाई गई हो, पर असल जिंदगी में पुलिस के जवान ही लोगों की मदद को आगे आते हैं। कई बार ये जवान कुछ ऐसा काम कर जाते हैं, जो महकमे से लिए एक मिसाल बन जाता है। मामला कुशीनगर जिले का है, जहां दो पुलिसकर्मियों ने ईमानदारी की मिसाल पेश की है। पुलिसकर्मियों की ईमानदारी की वजह से एक महिला की आंखों में खुशी के आंसू आ गए। उसने दोनों पुलिसकर्मियों को तहे दिल से धन्यवाद कहा।

ये है मामला

जानकारी के मुताबिक आज कुशीनगर जिले के हाटा कोतवाली में तैनात कांस्टेबल सुरजदेव सिंह और कांस्टेबल रिंकू प्रसाद के ईमानदारी की मिसाल दी जा रही है। दरअसल मंगलवार को भी पुलिस के दोनों जवान हर रोज की तरह ही बैंक के बाहर मुस्तैदी से अपनी ड्यूटी कर रहे थे इसी बीच बैंक के बाहर उन्हें प्लास्टिक का एक थैला मिला। सूरज और रिंकू ने थैले को उठाकर देखा तो उसमें 8500 रुपया और पासबुक रखा हुआ था। पासबुक पर सानू खातून निवासी पडरी का नाम दर्ज था। बैंक के आस पास दोनों ने महिला को ढूंढने की कोशिश की लेकिन सफलता नहीं मिली।

महिला ने किया धन्यवाद

जिसके बाद बैंक जाकर वहां से उन्होंने महिला का फोन नंबर लेकर उससे कॉन्टैक्ट करने का प्रयास किया, लेकिन महिला का मोबाइल स्विच ऑफ आया। बैंक की ड्यूटी खत्म करने के बाद जब दोनों पुलिस कर्मी हाटा कोतवाली थाना पहुंचे तो वहां से संबंधित ग्राम प्रधान का मोबाइल नंबर पता किया। इसके बाद ग्राम प्रधान को फोन कर पासबुक में दर्ज महिला को थाने बुलवाया गया। जब महिला थाने पहुंची तो उसकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। दोनों सिपाहियों ने महिला का बैग उसे लौटा दिया। ये देखकर उसकी आंखों में आंसू आ गए और उन्होंने दोनों का धन्यवाद किया