नई दिल्ली । संसद का बजट सत्र 29 जनवरी से शुरू हो रहा है। कोरोना महामारी के मद्देनजर इस महत्वपूर्ण सत्र में शरीक होने के लिए सांसदों के लिए विशेष नियम बनाए गए हैं। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने मंगलवार को इस संबंध में बताया कि सभी सांसदों के आरटीपीसीआर टेस्ट की व्यवस्था की गई है। कोरोना की जांच के लिए आरटीपीसीआर टेस्ट संसद की बिल्डिंग में ही 27-28 जनवरी को किया जाएगा। 
लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने बताया कि सांसदों के परिवार और स्टाफ के लिए भी टेस्ट की व्यवस्था की गई है। लोकसभा अध्यक्ष ने सभी सांसदों से बजट सत्र से पहले कोरोना टेस्ट करवाने की अपील की है। उन्होंने कहा कि इस सत्र से प्रश्नकाल की वापसी होगी। उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय और राष्ट्रीय महत्व के मुद्दों को लेकर प्रश्न काल इस सत्र से शुरू हो जाएगा। यह एक घंटे का होगा। गौरतलब है कि इससे पहले मॉनसून सत्र के दौरान प्रश्न काल हटाने का निर्णय किया गया था जिसे लेकर काफी राजनीतिक विवाद भी हुआ था। फिर सफाई दी गई थी कि ऐसा कोरोना महामारी के मद्देनजर किया गया है। 
सितंबर में हुए मॉनसून सत्र के दौरान भी विशेष इंतजाम किए गए थे। तब सत्र के पहले ही दिन सत्ताधारी भाजपा समेत कई पार्टियों के नेता कोरोना पॉजिटिव निकले थे। ओम बिड़ला ने कहा कि सुबह 9 बजे से दोपहर 2 बजे तक राज्यसभा की बैठक होगी जबकि शाम 4 से 8 तक लोकसभा की बैठक होगी।