मुंबई बॉलीवुड में ऋतिक रोशन की दो दशक की यात्रा ने उनको एक अभिनेता और एक इंसान के रूप में और अधिक विकसित होने में मदद की है। उन्होंने कहा, पहले मेरे पास टूलबॉक्स का तरीका हुआ करता था, लेकिन 'काबिल' के साथ और 'काबिल' के बाद एक अभिनेता के रूप में मेरी प्रक्रिया विकसित हुई है। मुझे लगता है कि मैं अधिक क्षमाशील बन गया हूं और साथ ही मुझे लगता है कि मुझे अब खुद पर भरोसा है। यह मुझे बेहतर तलाशने में मदद करता है, वह भी गलत होने के डर के बिना ही। हिट फिल्म 'कहो ना प्यार है' से बतौर हीरो अपनी शुरुआत करने वाले ऋतिक ने इस साल जनवरी में इंडस्ट्री में 20 साल पूरे किए।
उन्होंने कहा पिछले 20 सालों में एक अभिनेता के रूप में मेरी यात्रा खुशहाल रही है। सीखने और विविध अनुभवों से भरा हुआ। यह समृद्ध है। मुझे लगता है कि मैं काम करता हूं, क्योंकि एक काम का माहौल सद्गुणों को उभारने में मदद करता है। और सद्गुण वही गुण है जो किसी को स्वयं का सबसे अच्छा संस्करण बनने में मदद करता है। यह जीवन का मेरा एकमात्र मिशन है। हमारा उद्योग एक ऐसे मोड़ पर है, जहां दर्शकों, कहानी और प्रौद्योगिकी का लगातार विकास हो रहा है, वहां बहुत कुछ है जो तलाशने के लिए है, चित्रण करने के लिए है। एक कलाकार के रूप में यह एक रोमांचक जगह है। मैं अपने करियर के अगले चरण के लिए उत्साहित हूं। उन्होंने कहा, एक कलाकार के रूप में मैंने हमेशा अपने काम को पूरा किया है। मैं यह नहीं कहूंगा कि मेरी उत्पादकता में किसी भी प्रकार का बदलाव (लॉकडाउन के दौरान) आया है। मुझे अपने फिल्मी सेट्स, प्रोडक्शन के प्रत्येक चरण की हलचल याद आती है। लेकिन मुझे खुशी है कि हम एक उद्योग के रूप में दूर से काम करने के लिए विकसित हुए। मैं महामारी के दौरान कई परियोजनाओं पर काम कर रहा हूं, अनलॉक के साथ उनमें विकास हुआ है।