उत्तर प्रदेश के गोरखपुर (Gorakhpur) जनपद में लव जिहाद (Love Jihad) का पहला मामला सामने आया है। यहां एक रिटायर्ड सैनिक ने कर्नाटक के रहने वाले युवक के खिलाफ चिलुआताल थाने में अपहरण व लव जिहाद का केस दर्ज कराया है। मामला दर्ज होने के बाद डीआईजी/एसएसपी के निर्देश पर क्राइम ब्रांच की टीम के साथ चिलुआताल थाने की पुलिस आरोपी की तलाश में कर्नाटक के बीजापुर के लिए रवाना हो गई है। आरोपी शख्स का नाम महबूब बताया जा रहा है।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, चिलुआताल थाने में दी गई तहरीर में रिटायर्ड सैनिक ने बताया है कि उनकी नाबालिग बेटी कॉलेज में पढ़ती है। 4 जनवरी को वह खुद बेटी को छोड़ने कॉलेज गए थे। शाम तक घर नहीं लौटने पर परिजनों ने खोजबीन शुरू की, लेकिन कोई पता नहीं चला। इसके बाद 5 जनवरी को उन्होंने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई।

छानबीन करने पर पता चला कि कर्नाटक में बीजापुर जिले के इंडी रेलवे स्टेशन के पास रहने वाले महबूब नामक शख्स ने खुद को हिंदू बताकर उनकी बेटी से दोस्ती की। जांच में पता चला कि रिटायर्ड सैनिक की बेटी आरोपी महबूब से करीब एक साल से संपर्क में थी। आरोपी ने नौकरी दिलाने का झांसा देकर उनकी बेटी को किडनैप कर लिया।

पिता की तहरीर पर चिलुआताल पुलिस ने अपहरण व उत्‍तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अध्‍यादेश 2020 (लव जिहाद) के तहत महबूब के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। डीआइजी/एसएसपी जोगेंद्र कुमार के निर्देश पर क्राइम ब्रांच व चिलुआताल थाने की पुलिस बीजापुर रवाना हो गई है।

पुलिस को उम्‍मीद है कि वह इस मामले में जल्‍द ही सफलता प्राप्‍त कर लेगी। गोरखपुर में अभी तक लव जिहाद का मामला सामने नहीं आया था, यह पहला मामला है जब किसी पूर्व सैनिक की बेटी के साथ इस तरह से हुआ है। लव जिहाद का मामला सामने आते ही पुलिस सक्रिय हो गई है।

रिपोर्ट - हेमंत कुमार दुबे