यूपी के कुशीनगर जिले से एक बड़ी खबर सामने आ रही है. दरअसल वाहन चेकिंग के दौरान पशु तस्करों ने एक हेड कांस्टेबल को अपने वाहन से कुचल दिया. आनन-फानन में घायल हेड कांस्टेबल को जिला अस्पताल लाया गया जहां पर चिकित्सकों ने हेड कांस्टेबल को मृत घोषित कर दिया. ड्यूटी पर तैनात हेड कांस्टेबल की मौत के बाद विभाग में खलबली मच गई. आरोपियों को गिरफ्तार के लिए पुलिस की विशेष टीम गठित की गई. कई थाने की पुलिस के साथ स्वाट और सर्विसलांस की टीम जुटी है.

Also Read: किसी ने WhatsApp पर मैसेज भेजने के बाद कर दिया है डिलीट, तो पढ़ने के लिए अपनाएं ये सिंपल ट्रिक

हेड कांस्टेबल को कुचलता निकल गया वाहन

जानकारी के मुताबिक पूरी घटना कुशीनगर के तुर्कपट्टी थानाक्षेत्र के जोकवा बाजार के पास की है. पुलिस को सूचना मिली कि एनएच 28 से पशु तस्करों की गाड़ी जा रही है. तभी तरयासुजान थाने की पुलिस टीम मौके पर पहुंची और पशु तस्करों की घेराबंदी शुरू कर दी. तरयासुजान थाने पर तैनात हेड कांस्टेबल धर्मवीर यादव ने जोकवा बाजार के पास बैरिकेडिंग लगा दी. जैसे ही पशु तस्करों का पिकअप वाहन वहां पहुंचा तो हेड कांस्टेबल ने वाहन को रोकने का इशारा किया. अपने को घिरता देख तस्करों ने वाहन को पुलिस की ओर मोड़ दिया.

Also Read: अब बिजली विभाग ने उपद्रवियों पर कसा शिकंजा, कनेक्शन काटने के साथ कुर्की की भी तैयारी

पुलिसकर्मियों को देखते हुए संदिग्ध वाहन चालक रफ्तार बढ़ा दिया. जिसकी चपेट में धर्मवीर आ गए और गंभीर रूप से घायल हो गए. इलाज के लिए उन्हें जिला अस्पताल लाया गया जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. तरया सुजान थाने पर तैनात धर्मवीर संत कबीर नगर के निवासी थे. लगभग 17 साल की सेवा में यह थाना उनके लिए अंतिम थाना हो गया.

भावुक हुए SHO

बता दें कि मृतक धर्मवीर यादव की मौत से थाने के सहकर्मी भी बेहद दुखी हैं. वहीं, एसएचओ कपिलदेव चौधरी तो हेड कांस्टेबल की मौत हो भावुक हो गए. आंखों में आंसू लेकर उन्होंने कहा कि उनसे कम्युनिटी पुलिसिंग में मदद मिलती थी. इसके अलावा मुखबिर तंत्र को विकसित करने में वे माहिर थे. फिलहाल आरोपियों को गिरफ्तार के लिए पुलिस की विशेष टीम गठित की गई. कई थाने की पुलिस के साथ स्वाट और सर्विसलांस की टीम जुटी है.

Also Read: एलपीजी कनेक्‍शन लेना हुआ महंगा, कंपनियों ने सिक्‍योरिटी अमाउंट, रेग्‍यूलेटर, पाइप के दाम बढ़ाए