मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को बस्ती जिले का दौरा किया। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में कोरोना से मृत व्यक्तियों के परिजनों को सरकार पचास हजार रुपये मुआवजा देगी। इसकी कार्यवाही चल रही है। मुख्यमंत्री ने बस्ती जिले से संचारी रोग नियंत्रत्रण व दस्तक अभियान की शुरूआत करते हुए इसकी घोषणा की।



भारत रत्न पंडित अटल बिहारी बाजपेयी प्रेक्षागृह के सभागार में आयोजित कार्यक्रम में जेई-एईएस व अन्य संचारी बीमारियों के रोकथाम में अभियान की महत्ता को समझाते हुए कहा कि संचारी रोग के लिहाज से पंद्रह नवंबर तक का समय बेहद अहम है। इस दौरान सावधानी बरत कर रोगों से बचा जा सकता है।

मुख्यमंत्री यूपी के कोरोना नियंत्रण के मॉडल की उपलब्धि को रेखांकित करते हुए कहा कि अब आठ करोड़ टेस्ट और बारह करोड़ डोज टीका लग चुका है। आने वाला समय पर्व और त्योहारों का है। दीपावली और छठ पर बड़ी संख्या में लोग विभिन्न प्रांतों से आएंगे। ऐसे में कोरोना के एक बार फिर फैलने का खतरा है। 

उन्होंने कहा कि सावधानी बरतें। कोविड नियमों का पालन करें और मास्क जरूर लगाएं। कार्यक्रम में प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन ने भी संबोधित किया। 



इस मौके पर उद्यान मंत्री श्रीराम चौहान, सांसद हरीश द्विवेदी, जिला पंचायत अध्यक्ष संजय चौधरी, सदर विधायक दयाराम चौधरी, विधायक कप्तानगंज सीएस सीपी शुक्ला, विधायक महादेवा रवि सोनकर, विधायक रुधौली संजय प्रताप जायसवाल, विधायक हर्रैया अजय सिंह व अन्य मौजूद रहे। 

न्यूज़ सोर्स : सुशील शर्मा | एमएनटी न्यूज़ जिला ब्यूरो चीफ़ बस्ती